भारतीय जीवन बीमा निगम के वित्तीय प्रदर्शन का मूल्यांकन


Abstract


शोध सार
भारतीय जीवन बीमा निगम भारत की सबसे बडी जीवन बीमा कम्पनी है । भारतीय जीवन बीमा निगम ने वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना जारी करके वृ़द्धों को उनकी वृद्धावस्था में होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिये भी प्रयास किया है।भारतीय जीवन बीमा निगम लाखों लोगों को अनिश्चित मृत्यु या अनिश्चित घटना की स्थिति में बीमा प्रदान करती हैं। यह अध्ययन वित्तीय प्रदर्शन के मूल्यांकन पर आधारित है। यह शोध अध्ययन वर्णत्मक प्रकृति का है। द्वितीयक आंकड़ो पर आधारित है। यह आँकडे सरकारी रिपोर्टस, वेबसाइट और प्रकाशित पत्रिकाओं के माध्यम से संग्रहित किया गये है। इस अध्ययन से यह निष्कर्ष निकला है कि परिचालन व्यय में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई है इस पर अभी और नियंत्रण करने की आवश्यकता है और अन्य घटकों की तुलना में पाॅलिशी धारकों के निवेश प्रतिशत में अधिक वृद्धि हुई है।
शब्द कुंजियां: एलआईसी, वित्तीय प्रदर्शन, खर्चे, आय का स्त्रोत।


Full Text:

PDF

References


सिंह, मोइरा और कौर, अमनदीप (2017)। भारत के जीवन बीमा निगम के जीवन का पूरा निष्पादन: एक अध्ययन। प्दकपंद श्रवनतदंस व ित्मेमंतबीए 6;2द्धए सितम्बर, प्ैैछरू 2250.1991ण्

विनीता, डी और राज कृष्णन, वी.एस. (2015)। भारतीय जीवन बीमा निगम की विपणन रणनीतियों में हालिया रूझान। प्दजमतदंजपवदंस श्रवनतदंस व िैबपमदपिजपब त्मेमंतबी ंदक डंदंहमउमदजए 5;11द्धए पृष्ट सं. (7391-7394) प्ैैछरू 2321.3418ण्

शक्या, शिवाली (2016)। भारतीय जीवन बीमा निगम के प्रति बीमाधारियों की संतुष्टि का अध्ययन। प्दजमतदंजपवदंस श्रवनतदंस व िथ्नदकंउमदजंस - ।चचसपमक त्मेमंतबीए 4;1द्धए अगस्त, प्ैैछरू 2320.7973ण्

नेना, सोनल (2013)। भारतीय जीवन बीमा निगम के प्रदर्शन का मूल्यांकन। प्दजमतदंजपवदंस श्रवनतदंस व ि।कअंदबम त्मेमंतबी पद ब्वउचनजमत ैबपमदबम ंदक डंदंहमउमदज ैजनकपमेए 1;7द्धए दिसम्बर, प्ैैछरू 2321.7782ण्

नयडू, कल्पना और परमासिवन, सी (2016)। भारत में सार्वजनिक और निजी जीवन बीमा कंपनियों का एक समग्र अध्ययन। प्दजमतदंजपवदंस श्रवनतदंस व िडनसजपकपबपचसपदंतल त्मेमंतबी त्मअपमूए 1;7द्धए सितम्बर, पृष्ट सं. (15) प्ैैछरू 2395.1885ण्

बापट, हरीश, सोनी, विशाल और जोशी रितु (2014)। चयनित सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के जीवन बीमा कम्पनियों के उत्पाद की गुणवत्ता का अध्ययन। प्ैव्त् श्रवनतदंस व िठनेपदमेे ंदक डंदंहमउमदजए 16;4द्धए अपे्रल, पृष्ट सं. (32-41) प्ैैछरू 2319.7668ण्


Refbacks

  • There are currently no refbacks.